नवगछिया : सड़क एक ही लेकिन कही संकरी और कही चौड़ी.. हाल विक्रमशिला पहुंच पथ की सहायक सड़क

0
116
नवगछिया : सड़क एक ही लेकिन कही संकरी और कही चौड़ी
नवगछिया : सड़क एक ही लेकिन कही संकरी और कही चौड़ी

नवगछिया : सड़क एक ही लेकिन कही संकरी और कही चौड़ी

नवगछिया : तेतरी दुर्गा स्थान से खगड़ा गांव, साहू परवत्ता होते हुए जाह्नवी चौक तक जाने वाली विक्रमशिला पहुंच पथ की सहायक सड़क की दो प्रकृति है जो आश्चर्यजनक है. तेतरी दुर्गा स्थान से साहू परवत्ता गांव तक यह सड़क सकरी है तो साहू परवत्ता से जाह्नवी चौक तक यह सड़क अपेक्षाकृत चौड़ी है. यह सड़क पथ निर्माण विभाग के अधीन है. इन दिनों विक्रमशिला सेतु पर अक्सर जाम लगा ही रहता है ऐसी स्थिति में यह सड़क काफी कारगर हो जाता है लेकिन जहान्वी चौक से साहू परबत्ता तक तो स्थिति ठीक-ठाक रहती है लेकिन साहू परबत्ता से तेतरी दुर्गा स्थान तक ज्यादा देर तक यह सड़क ज्यादा वाहनों के आवागमन को झेल नहीं पाती है और जाम के जद में फंस जाती है. अगर साहू परबत्ता से तेतरी दुर्गा स्थान तक सड़क का चौड़ीकरण कर दिया जाए तो जाम की समस्या कुछ हद तक आसान हो सकती है तो दूसरी तरफ रोज हो रहे सड़क हादसे पर भी काबू पाया जा सकता है. कितनी दूरी तक सड़क पर अगर एक छोटा वाहन थी सामने से आ रहा हो तो दूसरे वाहन को पास मिलना कठिन हो जाता है. कभी-कभी स्थिति ऐसी विषम हो जाती है कि आगे से अगर कोई ज्यादा रफ्तार में सामने से वाहन आ रहा हो तो दो पहिया वाहन चालक विकल्प हीनता की स्थिति में रहते हैं. लिहाज इस सड़क पर रोजाना छोटे छोटे हादसे आम हो गए हैं. इस सड़क पर खगड़ा गांव के पास का यू टर्न ब्लैक स्पॉट कहा जा सकता है. अक्सर हाथ से यहीं पर होते हैं जिसका एकमात्र कारण सड़क का अत्यधिक सकरा होना है.

लंबे समय से उठ रही है चौड़ीकरण की मांग

विक्रमशिला सेतु बनने के बाद में किस तरह के चौड़ीकरण की मांग उठ रही है. कालांतर में जहान्वी चौक से साहू परबत्ता तक सड़क का चौड़ीकरण कर दिया गया लेकिन बाकी सड़क को यथावत छोड़ दिया गया. नवगछिया के राजनीतिक दल के कार्यकर्ताओं ने समय-समय पर सड़क के चौड़ीकरण का मामला उठाया लेकिन बात नहीं बनी. अब लोगों की मांगों को देखते हुए सांसद अजय कुमार मंडल ने पथ निर्माण विभाग के मंत्री को पत्र लिख कर सड़क चौड़ीकरण करने की मांग की है. मंत्री के पहल पर अभियंता प्रमुख ने मुख्य अभियंता को पत्र लिखकर मामले में कार्रवाई करने की का निर्देश दिया है. लेकिन जब तक सड़क धरातल पर बनना शुरू नहीं हो जाए तब तक कुछ कहा नहीं जा सकता है क्योंकि वर्षों यहां के लोगों की एक बड़ी समस्या यथावत है.

सड़क का इतिहास

तेतरी दुर्गा स्थान से जाह्नवी चौक तक जाने वाली यह सड़क आज भले ही विक्रमशिला सेतु पहुंच पद की सहायक फर्क हो लेकिन विक्रमशिला सेतु बनने से पहले यह मुख्य सड़क थी. इसी तरह से नवगछिया समेत कोसी और सीमांचल क्षेत्र के लोग हाई लेवल घाट गंगा घाट जाते थे और वहां से जहाज पर सवार होकर भागलपुर बरारी घाट पर उतरते थे. विक्रमशिला सेतु और पहुंच बात करने के बाद यह तड़पता है सड़क में तब्दील हो गई लेकिन इस सड़क पर ध्यान नहीं दिया गया. जिसका खामियाजा यहां के लोगों को 2 वर्ष पहले भी उठाना पड़ा था. बाढ़ और मानसून के समय में इस सड़क पर तेतरी कलबलिया धार के पास अत्यधिक दबाव हो जाता है. वर्ष 2019 में यहां पर सड़क ध्वस्त ही हो गई थी जिसके कारण आवागमन पूरी तरह से बाधित हो गया था. स्थानीय लोगों चंद्रभूषण सिंह, अशोक साह उर्फ लालू, वार्ड सदस्य अर्जुन मंडल, मुनिलाल मंडल ने कहा कि यह सड़क काफी महत्वपूर्ण है, इसलिये जिम्मेदार लोगों को पहल कर जल्द से जल्द सड़क को अपेक्षाकृत चौड़ा करना चाहिये. सड़क सकरी रहने से स्थानीय लोगों और दूरदराज के वाहन चालकों को कई तरह की कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है.

कहते हैं सांसद

भागलपुर के सांसद अजय कुमार मंडल ने कहा कि क्षेत्र भ्रमण और स्थानीय लोगों की शिकायत पर उन्होंने सड़क चौड़ीकरण करवाने के लिए विभागीय मंत्री को पत्र लिखा है. कार्यवाही शुरू कर दी गई है उम्मीद है. जल्द ही कार्य भी धरातल पर दिखने लगेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here