नवगछिया में अजबे-गजब प्रेम का मामला.. छोटी बहन को दिखाकर बड़ी से करा दी शादी, दोनों फरार

0
169
नवगछिया में अजबे-गजब प्रेम का मामला
नवगछिया में अजबे-गजब प्रेम का मामला

नवगछिया में अजबे-गजब प्रेम का मामला

नवगछिया इलाके में एक गजब प्रेम प्रसंग का मामला सामने आया है। एक युवक की शादी के दौरान उसे लड़की के छोटी बहन को दिखाया गया था। बाद में उसकी शादी उसकी बड़ी बहन से कर दी। जब इस बात की जानकारी युवक को हुई तो वह अपनी साली से प्‍यार करने लगा। साली ने भी सब बात सच-सच बता दी। दोनों एक-दूसरे को चाहने लगे। फ‍िर मौका पर दोनों फरार हो गया। अब युवक गायब है। अब कई शक उजागर हो रहे हैं कि कहीं उसकी हत्‍या तो नहीं कर दी गई है।

बतााया जा रहा है कि इस मामले में युवक का अपहरण हत्या की कर दी गई है। मामला नारायणपुर प्रखंड के भवानीपुर ओपी क्षेत्र का है। अपहृत युवक मधेपुरा जिला के औराई गांव निवासी संतोष कुमार शार्मा हैं। इस संबंध में अपहृत के भाई मनीष कुमार के बयान पर भवानीपुर ओपी में प्राथमिकी दर्ज की गई हैं। जिसमें पहाड़पुर के विद्यानंद शर्मा, अजीत शर्मा, ढोढो शर्मा, गौरव शर्मा सहित अन्य को आरोपित बनाया हैं।

मनीष कुमार ने पुलिस को बताया कि भवानीपुर ओपी क्षेत्र के पहाड़पुर निवासी विद्या उर्फ विद्यानंद शर्मा की बड़ी पुत्री कोमल की शादी तीन माह पूर्व मधेपुरा जिला के औराई गांव में धर्मेंद्र उर्फ धारो शर्मा से हुई थी। शादी के बाद धारो शर्मा का आना-जाना ससुराल पहाड़पुर होने लगा। इस दौरान धारो शर्मा का दिल अपनी साली काजल कुमारी उर्फ काजू पर आ गया और दोनों में प्रेम संबंध कायम हो हुआ। करीब ढाई माह पूर्व विद्या का दामाद धारो शर्मा उसकी छोटी पुत्री काजल कुमारी को लेकर फरार होकर शादी कर ली। यहां बता दें कि धारो शर्मा की शादी काजल की बहन की हुई थी, लेकिन शादी के पूर्व काजल को लड़की के रूप में उसे दिखा गया था। और शादी उसकी बहन से करा दी।

ग्रामीण और स्‍वजनों के प्रयास से पुत्री को वापस घर बुलाया गया। इसके बाद भी दोनों का प्रेम प्रसंग चलता रहा। नौ जून को विद्या फ‍िर दोनों फरार हो गए। विद्या शर्मा ने बेटी को खोजने का प्रयास किया लेकिन कहीं पता नहीं चला। विद्यानंद शर्मा ने इस घटना में शामिल होने के संदेह पर मधेपुरा जिला के औराई गांव के युवक धारो शर्मा के दोस्त संतोष शर्मा को 11 जून को उठा लिया।

ग्रामीण और पुलिस ने खोजने का प्रयास किया लेकिन नहीं मिला। भवानीपुर ओपीध्यक्ष रमेश कुमार साह ने बताया कि संतोष शर्मा के भाई मनीष शर्मा ने बताया कि 11 जून को भाई संतोष कुमार अपने फूफा के यहां रायपुर आया था। रायपुर से वापस घर जाने के क्रम में विद्या शर्मा ने संतोष को कब्जे में ले लिया। संतोष के स्वजनों ने उसे खोजने का प्रयास किया, लेकिन वह नहीं मिला। संतोष के भाई मनीष शर्मा ने पहाड़पुर के विद्यानंद शर्मा, अजीत शर्मा, ढोढो शर्मा, गौरव शर्मा सहित अन्य पर प्राथमिकी दर्ज कराया है। जिसमें विद्यांनंद शर्मा, अजीत शर्मा को गिरफ्तार कर लिया गया है।

Source : https://bit.ly/3vjidvb

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here